प्रैस रिलीज

माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इण्डिया कार्यक्रम के अंतर्गत देश के किसानों में नगदीरहित लेनदेन प्रणाली विकसित करने के लिए किसानों की सहकारी संस्था इफको ने बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ मिलकर एक को-ब्रांडेड कार्ड बनाकर किसानों को वितरण करने का अनुबन्ध माह फरबरी में किया था। आज दिनाँक 23 मई 2017 को प्रथम चरण में देश के 2 लाख किसानों को इफको-बैंक ऑफ बड़ौदा को-ब्रांडेड कार्ड वितरण के कार्यक्रम का शुभारम्भ इफको सदन के सभागार, साकेत, नई दिल्ली में सम्पन्न हुआ। इस कार्यकरम में मेरठ मण्डल के 51 कृषकों को को-ब्रांडेड कार्ड इफको निदेशक (मानव संसाधन एवं विधि), श्री राजेन्द्र प्रसाद सिंह एवं बैंक ऑफ बड़ौदा के प्रबंध निदेशक श्री पी. एस. जयकुमार द्वारा किया प्रदान किए गए। इस अवसर पर बैंक ऑफ बड़ौदा एवं इफको के अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे ।

इस अवसर पर कार्यक्रम की आद्यक्षता कर रहे श्री राजेन्द्र प्रसाद सिंह ने उपस्थित किसान भाइयों से अपील की कि अधिक से अधिक संख्या में इफको से जुड़कर को-ब्रांडेड कार्ड ग्रहण कर एक माह में ब्याज मुक्त नगदीरहित लेनदेन प्रणाली का लाभ उठाएँ। उन्होने यह भी बताया कि इफको किसानों को उनकी आवश्यकतानुसार सभी प्रकार के कृषि निवेशों की व्यवस्था जिसमें रासायनिक खादों के अतिरिक्त सभी प्रकार के जैव उर्वरक, जल विलेय उर्वरक, कृषि रसायन, सूक्ष्म पोषक तत्व, सागरिका(ग्रोथ प्रमोटर) आदि उचित कीमत पर किसानों को उपलब्ध कराने का कार्य कर रही है। शीघ्र ही अनेक प्रकृतिक उत्पाद इस श्रंखला में शामिल किए जाएंगे। अंत में उन्होने इस योजना की सफलता की कामना की और किसानों को अशस्वत किया कि प्रारम्भ में चार राज्यों में शुरू की गई यह योजना शीघ्र ही अन्य राज्यों में लागू की जाएगी।

इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बैंक ऑफ बड़ौदा के प्रबंध निदेशक श्री पी. एस. जयकुमार ने उपस्थित किसानों को आश्वस्त किया कि नगदीरहित प्रणाली को विकसित करने के लिए यथा संभव सहायता कर इस योजना को सफल बनाएँगे एवं अपनी सह-संस्था के साथ मिलकर किसानों की हर संभव मदद करेंगे।

ये कार्ड सभी कृषक जो इफको के किसान सेवा केंद्र/सहकारी समितियां/इफको ई-बाज़ार/आईएफ़एफ़डीसी केंद्र से उर्वरक कृय करते हैं, उस केंद्र की संस्तुति पर प्राप्त कर सकते हैं। इस व्यवस्था के अंतर्गत प्रथम लेनदेन के समय 100/- रुपये मात्र से बैंक ऑफ बड़ौदा में खाता उसी केंद्र पर आधार कार्ड द्वारा खोला जाएगा। पहले चरण में यह सुविधा चार राज्यों , उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान एवं बिहार में शुरू की गई है। कार्ड धारक किसान 2500/- रूपये का कृषि निवेश बिना कोई भुगतान किए कार्ड से प्राप्त कर सकता है। यह को-ब्रांडेड कार्ड अन्य कई विशेषताओं से युक्त है जैसे कि :

  •  इस कार्ड से प्राप्त किए गए कृषि निवेश पर एक माह का ब्याज निशुल्क है। यदि किसान खाद खरीद की तिथि से एक माह के अंदर भुगतान कर देता है तो कोई ब्याज देय नहीं होगा तथा भुगतान के पश्चात फिर से कृषि निवेश खरीदने का पात्र बन जाएगा । इस प्रकार वर्ष में कई बार किसान
    नगदीरहित लेनदेन बिना ब्याज के कर सकेगा।
  • किसान के खाते में जमा धनराशि के विरुद्ध यदि वो चाहे तो जमा धनराशि से अधिक मूल्य का कृषि निवेश भी कृय कर सकता है।
  • यदि किसान एक माह के अंदर भुगतान नहीं कर पाएगा तो उसको 8.60 प्रतिशत की दर से विलम्बित अवधि के लिए ब्याज देना होगा।
  • इसके अलावा कार्ड के माध्यम से कृषि निवेश की खरीद पर दुर्घटना बीमा की व्यवस्था भी होगी।
COMMENTS

Share This: